Astro Articles

कौन सा शुभ योग एवं कौन सा अशुभ योग बनता है कुण्डली में जब चन्द्रमा अन्य ग्रहों के साथ युति/सम्बन्ध बनाता है ।। Chandra & Anya Grahon se Dhanyoga.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,


कौन सा शुभ योग एवं कौन सा अशुभ योग बनता है कुण्डली में जब चन्द्रमा अन्य ग्रहों के साथ युति/सम्बन्ध बनाता है ।। 

चंद्र+मंगल:- ये युति से रक्त (शोणित) विकार से पीड़ित, मिट्टी, चमड़ा और धातुओं के शिल्प बनाने वाला, धनि और रण में विजयी, शत्रुओं एवं ईर्ष्या करने वालों पर विजय दिलाता है एवं उच्च वर्ग (सरकारी अधिकारी) विशेषकर सैनिक व शासकीय अधिकारियों से अच्छे सम्बन्ध बनवाता है ।।

चंद्र+बुध:- चन्द्र-बुध के योग से स्त्री के आधीन, सुन्दर रूप, काब्य में निपुण, ऐसे व्यक्ति धनवान, गुणवान, हँसमुख, उद्योगपति, लेखक, सम्पादक व पत्रकार होते हैं । तथा ऐसे व्यक्ति अपने कुल में श्रेष्ठ एवं धर्मात्मा होता है ।।

चंद्र+गुरु:- इन ग्रहों के योग होने पर देव ब्राह्मण का पूजक, बंधुओं का सत्कार, धनवान, निश्चय प्रेम करनेवाला और सुशील होता है । ऐसा व्यक्ति अध्ययन कार्य में सर्वोपरि, किसी नई विद्या को सीखने में उत्सुक एवं अतुलनीय धन और सर्वोत्कृष्ट व्यापारी होता है ।।

चंद्र+शुक्र:- इसकी युति हो तो क्रय-विक्रय में चतुर, शूर सदृश आचरण वाला, झगड़ालू और धन एवं वस्त्र की कमी में जिंदगी का गुजर-बसर करनेवाला होता है । ऐसे जातक को अपने जीवन में प्रेम-प्रसंगों में हर प्रकार की सफलता प्राप्त होती है ।।

चंद्र+शनि:- का योग हो तो हाथी-घोड़े का पालन करनेवाला, दुष्ट स्वाभाव वाला, वृद्धा स्त्री से प्रेम करनेवाला, वेश्या के द्वारा धन लाभ प्राप्त करनेवाला एवं एवं अल्प सन्तान वाला होता है । शत्रुओं पर विजय, एवं स्वयं के धन तथा शारीरिक हानि, एवं कष्टमय जीवन जीनेवाला होता है ।।

यु टुब पर इस विडियो को अवश्य देखें... वृष लग्न की कुण्डली विशेषांक - https://youtu.be/w0-mhxk2g6k


=============================================
=============================================
वास्तु विजिटिंग के लिए तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति हेतु संपर्क करें ।।
=============================================
=============================================
किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।
=============================================
=============================================

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केंद्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

Contact to Mob :: +91 - 8690522111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

Website :: www.astroclasses.com
www.astroclassess.blogspot.com
www.facebook.com/astroclassess

।। नारायण नारायण ।।

बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.