Totake

सुखी एवं संमृद्ध जीवन के लिए कुछ आसन टोटके ।।



सुखी एवं संमृद्ध जीवन के लिए कुछ आसन टोटके ।। Happy and prosperous life some easy Totake.

हैल्लो फ्रेंड्सzzzzz.

मित्रों, मोर संसार में एक ऐसा विचित्र प्राणी होता है, जो सम्भोग नहीं करता । यही कारण है कि उसके पंख को स्वयं भगवान भी अपने सर पर धारण करते हैं । इसीलिए सुख-समृद्धि का प्रतिक एवं किसी भी कार्य में शीघ्र सफलता दिलाने वाला वस्तु माना जाता है । इसीलिये मोर पंख को घर के मंदिर मे रखने से घर में सुख-समृद्धि की नित्य वृद्धि होती है ।। किसी भी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति हेतु अपने घर में अपराजिता का पौधा लगाएँ और उसे रोज धुप-दीप दिखाकर इस मन्त्र का उसके सम्मुख कम से कम 108 बार जप करें । मन्त्र - “ॐ महालक्ष्मी वान्छितार्थ पूरय पूरय नमः । किसी भी मनोकामना की पूर्ति बहुत जल्द होती है ।।

घर के मन्दिर में पूजा के क्रम में धुप जलाते समय उसमें चन्दन का टुकड़ा ड़ाल कर धुप जलाकर दिखाने से ग्रहों की प्रशन्नता प्राप्त होती है और उनकी सुदृष्टि प्राप्त होती है ।। किसी जागृत देवस्थल पर मिठाई, खीर अथवा भोजन बांटना (भण्डारा करवाने) अत्यंत ही शुभ माना गया है । ऐसा प्रमाण हमारे शास्त्रों में मिलता है, कि ऐसा करने से सर्वतोमुखी उन्नति की प्राप्ति होती है ।।

आपके व्यापारिक प्रतिष्ठान के अथवा आपके घर के मुख्य द्वार पर काला स्वस्तिक आने वाली समस्त बुरी नजर तथा आनेवाली समस्त परेशानियों से आपकी रक्षा करती है ।। अगर आपके बच्चे किसी गलत संगत मेँ पड़ गए हैं और आप बहुत परेशान है तो हमें संम्पर्क करें । मित्रों, इस अमावस्या को मैंने इस प्रयोग का सफलता पुर्बक अनुष्ठान संम्पन्न किया है ।।

अमावस्या या प्रदोष के दिन अगर बाबा भैरव का विधि-विधान पूर्वक पूजन करके शिव पूजन के साथ अगर रुद्राभिषेक शहद से करवाया जाय, तो तत्काल मनोकामना सिद्ध होती है ।।   वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।


बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.