Astro Articles

क्या आपके वैवाहिक जीवन में प्रतिक्षण तूं-तूं मैं-मैं होता है ? तो ध्यान से पढ़ें ।।



क्या आपके वैवाहिक जीवन में प्रतिक्षण तूं-तूं मैं-मैं होता है ? तो ध्यान से पढ़ें ।। Vaivahik Jivan Ki Samasyaon Ka Saral Samadhan.


हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, अगर आपके वैवाहिक जीवन में प्रतिक्षण तूं-तूं मैं-मैं होता है तो ध्यान से देखें आपकी कुण्डली में चन्द्र एवं राहू की युति होगी । इस योग के परिणाम स्वरुप आप दोनों पति-पत्नी को मानसिक चिंता बढ़ेगी जिससे मानसिक स्थिति भी असंतुलित होता चला जायेगा ।।

आपका जीवन नरक की तरह होता चला जायेगा जिसके कारण गृह कलह और झगड़े बढ़ेंगे । इसका इलाज शिव का पूजन है, अगर आप शिव लिंग की पूजा श्रद्धा पूर्वक करने के बाद शहद का लेप शिवलिंग पर करते हैं तो आपका ये दोष धीरे-धीरे कम होता चला जायेगा और एक दिन पूर्णतः समाप्त हो जायेगा ।।

मित्रों, वैवाहिक जीवन दोनों के कुछ आपसी तालमेल बिठाने से ही चलता है । परन्तु कभी-कभी देखने में आता है, कि कोई एक इतना अधिक अड़ियल हो जाता है जिससे घर की सारी व्यवस्था ही बिगड़ने लगती है ।।

अगर आपकी कुण्डली में मंगल तथा राहू किसी घर में एक साथ बैठे हों अर्थात् इनकी युति बन रही हो तो व्यक्ति अत्यधिक जिद्दी स्वभाव का हो जाता है । इतना ही नहीं ऐसे जातक आपस में ही एक दूसरे की भावनाओं को ठेस पहुँचाने के प्रयत्न में सदैव रहते हैं ।।

ऐसी स्थिति में आप स्वयं समझ सकते हैं, परिवार में बिखराव संभव है । इसका इलाज भी शिव पूजन ही है, गन्ने के रस से शिव का अभिषेक करें तथा गणेश अष्टोत्तरशत नाम का पाठ करें । आपके इस दोष को शीघ्र ही दूर करने का ये अचूक उपाय है ।।


  
वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।


किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।


संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap & Call:   +91 - 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com


।।। नारायण नारायण ।।।

बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.