Devata Stotram

अथ श्रीवेङ्कटेश्वर वज्रकवचम् स्तोत्रम् ।। Shri Venkateshwara Vajra Kavacha Stotram.

अथ श्रीवेङ्कटेश्वर वज्रकवचम् स्तोत्रम् ।।

Shri Venkateshwara Vajra Kavacha Stotram.

मार्कन्डेय उवाच:-
नारायणं परब्रह्म सर्वकारणकारकम् ।
प्रपद्ये वेङ्कटेशाख्यं वन्दे कवचमुत्तमम् ॥१॥
सहस्रशीर्षा पुरुषो वेङ्कटेशश्शिरोवतु ।
प्राणेशः प्राणनिलयः प्राणान् रक्षतु मे हरिः ॥२॥

आकाशराट् सुतानाथ आत्मानं मे सदावतु ।
देवदेवोत्तमः पाया द्देहं मे वेङ्कटेश्वरः ॥३॥

सर्वत्र सर्वकालेषु मङ्गाम्बाजानिरीश्वरः ।
पालयेन्मां कर्मसाफल्यं सः प्रयच्छ ॥४॥

य एतद्वज्रकवचमभेद्यं वेङ्कटेशितु ।
सायं प्रातः पठेन्नित्यं मृत्युं तरति निर्भयः ॥ ५॥

।। इति श्री वेङ्कटेश्वर वज्रकवच स्तोत्रम् सम्पूर्णं ।।

==============================================

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

==============================================

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

==============================================

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केंद्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap+ Viber+Tango & Call: +91 - 8690522111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

Website :: www.astroclasses.com
www.astroclassess.blogspot.com
www.facebook.com/astroclassess

।। नारायण नारायण ।।

बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.