Devata Stotram

सभी ग्रह बाधाओं को दूर करके समस्त दु:खों का अन्त करने वाला हनुमत् रक्षा स्तोत्रम् ।।



सभी ग्रह बाधाओं को दूर करके समस्त दु:खों का अन्त करने वाला हनुमत् रक्षा स्तोत्रम् ।। Shri Hanumat Raksha Stotram.
हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, अतुलनीय धन-धान्यादि प्रदायक एवं किसी भी तरह के दुःख, पीड़ा, कष्ट आदि अथवा किसी भी तरह के भुत-प्रेतादि बाधा तथा सभी कुचक्र को तोड़कर जीवन के सभी सुखों को देने वाला श्रीहनुमान जी का ये हनुमत् रक्षा स्तोत्र है ।। इसका पाठ बहुत ही सरल है, किसी भी शनिवार या मंगलवार को इसका पाठ सिर्फ चमेली के तेल का दीपक जलाकर कर सकते हैं । तो मित्रों आइये इस स्तोत्र का हम सभी मिलकर पाठ करें ।।  अथ श्रीहनुमत् रक्षा स्तोत्रम् ।।

वामे करे वैरिभिदं वहन्तं शैलं परे शृङ्खलहारटङ्कम् ।
ददानमच्छाच्छसुवर्णवर्णं भजे ज्वलत्कुण्डलमाञ्जनेयम् ॥१॥

पद्मरागमणिकुण्डलत्विषा पाटलीकृतकपोलमस्तकम् ।
दिव्यहेमकदलीवनान्तरे भावयामि पवमाननन्दनम् ॥२॥  उद्यदादित्यसङ्काशमुदारभुजविक्रमम् ।
कन्दर्पकोटिलावण्यं सर्वविद्याविशारदम् ॥३॥

श्रीरामहृदयानन्दं भक्तकल्पमहीरुहम् ।
अभयं वरदं दोर्भ्यां कलये मारुतात्मजम् ॥४॥  वामहस्ते महाकृच्छ्रदशास्यकरमर्दनम् ।
उद्यद्वीक्षणकोदण्डं हनूमन्तं विचिन्तयेत् ॥५॥

स्फटिकाभं स्वर्णकान्तिं द्विभुजं च कृताञ्जलिम् ।
कुण्डलद्वयसंशोभिमुखाम्भोजं हरिं भजे ॥६॥



बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.