Astro Articles

वृषभ राशी वालों के लिए घर की आन्तरिक सज्जा का चयन ।। HOME DECORATION TIPS FOR VRISHABH RASHI.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

 मित्रों, तरह-तरह के अलंकारों से सुसज्जित झाड़, तरह-तरह एवं जटिल कलाकारी के पर्दे, हाथीदांत के गुलदान आदि जो आपकी आंखो को आकर्षित करता है ?

लकड़ा, स्टील और क्रोम तथा और भी प्रकार के फर्नीचर इन सबकी सज्जा आपके भीतर इनके डिजाइनर की संवेदनशीलता का बयां करती है । हम में से हर एक को डिजाइन का एक अनोखा तरीका पसंद आता है ।।

मित्रों, आज मैं आपलोगों को वृषभ राशी के जातकों को किस तरह की कलाकारी अथवा आन्तरिक सज्जा करवानी चाहिए । आज हम इसी बात को बताते हैं, कल अगली राशि के विषय में चर्चा करेंगे ।।

वृषभ राशि के जातक अपनी भौतिक संपत्ति से सर्वाधिक प्यार करते हैं । ऐसे लोग अपनी भौतिक संपत्ति से सदैव जुड़े हुए रहते हैं ।।

इनका घर एक सार्थक निवेश और सामाजिक स्थिति का प्रतीक बन जाता है । इसके अलावा आराम, विलासिता एवं स्थिरता इन शुक्र प्रभावित जातकों के लिए महत्वपूर्ण होता हैं ।।

प्रेम और भावुकता के कारण सौंदर्यशास्त्र, इंटीरियर डिजाइनिंग और वास्तुकला की संवेदनशीलता इन जातकों के स्वाभाव में होता है । विश्राम, सौंदर्य, संतोष, कालातीत लालित्य आदि इनके गुण होते हैं ।।

यदि उनकी वित्तिय स्थिति अच्छी हो तो ये अपने घरों के लिए आलीशान पर्दे और फर्नीचर जोड़ना पसंद करते हैं । सुशोभित एक्सटेंशन और अपने घरों को तथा उसके सजावट को अपने दिमाग में हमेशा रखते हैं ।।

फूल और सजावटी पौधे इनके शौक को उजागर करते हैं | कालीन और कालीनदार फ़र्श भी इन्हे बहुत पसंद होता है । इनका बेडरुम इनकी रुचि का दर्पण होता है ।।

व्यावहारिक फर्नीचर, मध्यम प्रकाश और मुलायम चादरें इनके लिए ज्यादा फायदेमन्द होता है । व्यवस्थित और विशाल रसोई काउंटर और भोजन के क्षेत्र में भी इनकी रूचि सबसे अलग ही होती हैं ।।

==============================================

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

==============================================

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

==============================================

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केंद्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap+ Viber+Tango & Call: +91 - 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

Website :: www.astroclasses.com
www.astroclassess.blogspot.com
www.facebook.com/astroclassess

।। नारायण नारायण ।।

बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.