Vedic Articles

काला कुत्ता अथवा कौवा से ग्रहदोष एवं आर्थिक बाधा निवारण ।। Kala Kutta, Kauva And Promotion

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, काला कुत्ता अथवा काला कौवा बड़े काम की चीज होते हैं । वैसे आज के समय में ये दोनों ही अत्यन्त दुर्लभ से प्रतीत होते हैं । परन्तु ढूंढने से मिल अवश्य ही जाते हैं अगर निष्ठा हो तो ।।

चलिए आपको यदि ग्रह दोषों के वजह से कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ रहा हो तो पूरी निष्ठा से इन्हें ढूंढे । आपकी निष्ठा पक्की है तो ये अवश्य ही आपको कहीं-न-कहीं मिल ही जायेंगे ।।

अगर आप आर्थिक रूप से बिलकुल टूट से गए हैं और अपनी स्थिति पुनः प्राप्त करना चाहते हैं । आपके विवाह में रुकावटें आ रही हो अवांछित मुश्किलें कड़ी हो रही हों तो भी आप इस उपाय को कर सकते हैं ।।

मित्रों, आइये कुछ ग्रह दोष निवारण के कुछ सरल उपाय आपको आज हम पहले बता देते हैं । हनुमान जी की मूर्ति पर अक्सर लोग सिन्दूर चढ़ाते हैं । आप उस सिंदूर को लेकर सीता जी के चरणों में चढ़ा देवें ।।

सिंदूर चढ़ाने के बाद माता सीता से अपनी मनोकामना को "एक ही श्वास में भक्ति-पूर्वक निवेदित करके प्रणाम करें" फिर वहां से वापस आ जायें । इस क्रिया को कुछ दिन करें आपकी सभी ग्रह दोषों का निवारण होगा एवं समस्त कामनायें पूर्ण होंगी ।।

मित्रों, एक दूसरा उपाय और है जिसे आप कर सकते हैं । जिस दिन "सर्वार्थ-सिद्धि योग" एवं शनिवार हो उस दिन सांय-काल में अपनी लम्बाई के जितना लाल रेशमी सूत नापकर रखें और एक बरगद का पत्ता भी तोड़कर रखें ।।

उस बरगद के पत्ते को स्वच्छ जल से धो-पोंछ कर रखें । थोड़ी सी पूजा करके अपनी मनोकामना व्यक्त करें और पत्ते को बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें । इस प्रयोग से सभी बाधाएँ दूर होंगी और कामनायें पूर्ण होंगी ।।

मित्रों, चलिए अब मुख्य विषय की ओर चलते हैं । रविवार के दिन अक्सर पुष्य नक्षत्र होता ही है । इस प्रकार के मुहूर्त में कोई एक काला कौआ अथवा काला कुत्ता किसी प्रकार पकड़कर उसके दाएँ पैर का नाखून काट लें ।।

उसी दिन इस नाखून को एक ताबीज में भर कर धूप-दीपादि से पूजनकर अपने दाहिने बाजु में बाँध लें । इसको धारण करने मात्र से आपकी आर्थिक बाधा दूर होंगी और नौकरी एवं व्यापार में सर्वोच्च्य स्थान की प्राप्ति होगी ।।

इस बात का गम्भीरता से ध्यान रखें की काले कौए या काले कुत्ते में से किसी एक का ही नाखून लेना है । इन दोनों प्राणियों को कष्ट भी ना हो तथा दोनों का एक साथ प्रयोग भी नहीं करना चाहिए ।

मित्रों, किसी भी प्रकार के संकट के निवारण हेतु भगवान् गणेश के मंदिर में अथवा उनकी प्रतिमापर किसी शुभ मुहूर्त से शुरू करके कम-से-कम २१ दिन तक थोड़ी-थोड़ी "जावित्री" चढ़ायें ।।

थोडा सा जावित्री लेकर मंदिर जायें और उसमें से थोड़ी सी चढायें एवं थोड़ी सी अपने पास रखें । पास रखी हुई जावित्री को रात्रि में सोने से पहले खाकर सो जायें । यह कार्य आप कम-से-कम २१ दिनों तक अवश्य करें एवं ज्यादा-से-ज्यादा ४२, ६३ या ८४ दिनों तक कर सकते हैं ।।

==============================================

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

==============================================

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

==============================================

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केंद्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap+ Viber+Tango & Call: +91 - 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

Website :: www.astroclasses.com
www.astroclassess.blogspot.com
www.facebook.com/astroclassess

।। नारायण नारायण ।।

बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.