My Articles

अथ श्री शनि अष्टोत्तरशत नामावली: ।। Shani Ashtottarashata Namavalih.

हैल्लो फ्रेंड्सzzz.



हे शनिदेव ! आप सबके अभीष्ट कि सिद्धि करने वाले, सबके शरण दाता, सबके रक्षक, शांत स्वरुप हैं । हे सौम्य ! हे देवताओं द्वारा वंदित देवलोक में विहार करनेवाले, हे सुखासन पर आनंद पूर्वक बैठे अत्यन्त सुन्दर स्वरुप वाले शनिदेव मैं आपको नमस्कार करता हूँ ।।





ॐ शनैश्चराय नमः ।।
ॐ शान्ताय नमः ।।
ॐ सर्वाभीष्टप्रदायिने नमः ।।
ॐ शरण्याय नमः ।।
ॐ वरेण्याय नमः ।।
ॐ सर्वेशाय नमः ।।
ॐ सौम्याय नमः ।।
ॐ सुरवन्द्याय नमः ।।
ॐ सुरलोकविहारिणे नमः ।।
ॐ सुखासनोपविष्टाय नमः ।।१०।।


ॐ महेशाय नमः ।।
ॐ छायापुत्राय नमः ।।
ॐ शर्वाय नमः ।।
ॐ शततूणीरधारिणे नमः ।।
ॐ चरस्थिरस्वभावाय नमः ।।
ॐ अचञ्चलाय नमः ।।
ॐ नीलवर्णाय नमः ।।
ॐ नित्याय नमः ।।
ॐ नीलाञ्जननिभाय नमः ।।
ॐ नीलाम्बरविभूशणाय नमः ।।३०।।


ॐ विश्ववन्द्याय नमः ।।
ॐ गृध्नवाहाय नमः ।।
ॐ गूढाय नमः ।।
ॐ कूर्माङ्गाय नमः ।।
ॐ कुरूपिणे नमः ।।
ॐ कुत्सिताय नमः ।।
ॐ गुणाढ्याय नमः ।।
ॐ गोचराय नमः ।।
ॐ अविद्यामूलनाशाय नमः ।।
ॐ विद्याविद्यास्वरूपिणे नमः ।।५०।।


ॐ वज्राङ्कुशधराय नमः ।।
ॐ वरदाभयहस्ताय नमः ।।
ॐ वामनाय नमः ।।
ॐ ज्येष्ठापत्नीसमेताय नमः ।।
ॐ श्रेष्ठाय नमः ।।
ॐ मितभाषिणे नमः ।।
ॐ कष्टौघनाशकर्त्रे नमः ।।
ॐ पुष्टिदाय नमः ।।
ॐ स्तुत्याय नमः ।।
ॐ स्तोत्रगम्याय नमः ।।७०।।


ॐ अशेषजनवन्द्याय नमः ।।
ॐ विशेशफलदायिने नमः ।।
ॐ वशीकृतजनेशाय नमः ।।
ॐ पशूनां पतये नमः ।।
ॐ खेचराय नमः ।।
ॐ खगेशाय नमः ।।
ॐ घननीलाम्बराय नमः ।।
ॐ काठिन्यमानसाय नमः ।।
ॐ आर्यगणस्तुत्याय नमः ।।
ॐ नीलच्छत्राय नमः ।।९०।।


ॐ आर्यजनगण्याय नमः ।।
ॐ क्रूराय नमः ।।
ॐ क्रूरचेष्टाय नमः ।।
ॐ कामक्रोधकराय नमः ।।
ॐ कलत्रपुत्रशत्रुत्वकारणाय नमः ।।
ॐ परिपोषितभक्ताय नमः ।।
ॐ परभीतिहराय नमः ।।
ॐ भक्तसंघमनोऽभीष्टफलदाय नमः ।।



=============================================


==============================================


==============================================






।।। नारायण नारायण ।।।

बालाजी वेद, वास्तु एवं ज्योतिष विद्यालय, सिलवासा ।।

कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने तथा वास्तु विजिटिंग के लिये अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें । पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं । ज्योतिष पढ़ने के लिये संपर्क करें - बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

0 comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

BALAJI VED VIDYALAYA, SILVASSA.. Powered by Blogger.